12 बाइबल की एतिहासिक पुस्तकों में यीशु का चित्रण-भाग 6

12 बाइबल की एतिहासिक पुस्तकों में यीशु का चित्रण-भाग 6

23. कोढ़ से चंगाई एलिशा द्वारा।
40. नहेमायाह

12 बाइबल की एतिहासिक पुस्तकों में यीशु का चित्रण-भाग 6-बाइबल की पुराने नियम की एतिहासिक पुस्तकों में यीशु –(1)यहोशू- हमारे उद्धार के कप्तान जोशुआ (वादा किए गए देश में हमारे नेता) के व्यक्ति में सेना के कमांडर में वादा भूमि में टाइप किया (यहोशु 5: 13-15), (2) न्यायियों– न्यायाधीशों जज एंड लॉजिवर न्यायाधीशों में टाइप किया गया (क्योंकि वह जीवित और मृत लोगों का सच्चा न्यायाधीश है), (3) रूथ– दया द किंसमैन रिडीमर मसीहा, बोअज़ और रूथ का वंशज होगा।

 पुराने नियम की अन्य एतिहासिक पुस्तकें 

(4) 1 & 2 शमूएल- प्रभु के पैगंबर मसीहा, परमेश्वर के साथ शक्ति से बढ़ा (1 शमुएल 2:10, मत्ती 28:18), मसीहा दाऊद का वंशज होगा (2 शमुएल 7: 12-16, मत्ती 1: 1), मसीहा ‘रॉक’ चट्टान, (2 शमुएल 23) होगा : 2-3, 1 कुरिंथियों 10: 4), दाऊद के जीवन – निर्वासन (1 शमुएल 22) में राजा योनाथन के जीवन – वफादार दोस्त (1 शमुएल 18: 1-4), (5) 1 और 2 राजों की पुस्तक,  राज करने वाला राजा सुलैमान के जीवन में (सहस्त्राब्दी शासनकाल), पैगंबर एलीशा के जीवन और चमत्कार- रोटी , 2 राजा 4:42 को बढ़ाना, कोढ़ से चंगाई 2 राजा 5),

(6) 1 और 2 इतिहास-

गौरवशाली मंदिर मसीहा यहूदा के गोत्र से होगा (1 इतिहास 5: 2, लूका 3: 23-32) सुलैमान के मंदिर में मौजूद, सुलैमान की बुद्धि में मौजूद (2 क्रोन 9:22), (7) एज्रा-आस्था का सूत्र, ज़ुर्बबेल के व्यक्ति में विशिष्ट, मंदिर का पुनर्निर्माण (एज्रा 4), (8) नहेमायाह -दीवारों का पुनर्निर्माण मोक्ष की दीवारों के पुनर्निर्माण के लिए नहेमायाह के व्यक्ति में टाइप किया गया, (9) एस्थर – मोर्दकै के व्यक्ति में चित्रित / टाइप किया गया।

12 बाइबल की एतिहासिक पुस्तकों में यीशु का चित्रण-भाग 6

यहोशू

हमारे उद्धार कप्तान और वादा किए गए देश में हमारे नेता के रूप में (यहोशु 5: 13-15)

  • व्यक्ति में सेना के कमांडर में वादा भूमि में टाइप किया
  •  जब यहोशू यरीहो के पास था तब उसने अपनी आंखें उठाई, और क्या देखा, कि हाथ में नंगी तलवार लिये हुए एक पुरूष साम्हने खड़ा है;
  • और यहोशू ने उसके पास जा कर पूछा, क्या तू हमारी ओर का है, वा हमारे बैरियों की ओर का?  यहोशू 5:13
  • उसने उत्तर दिया, कि नहीं; मैं यहोवा की सेना का प्रधान हो कर अभी आया हूं।
  • तब यहोशू ने पृथ्वी पर मुंह के बल गिरकर दण्डवत किया,
  • और उस से कहा, अपने दास के लिये मेरे प्रभु की क्या आज्ञा है?  यहोशू 5:14
  • यहोवा की सेना के प्रधान ने यहोशू से कहा, अपनी जूती पांव से उतार डाल,
  • क्योंकि जिस स्थान पर तू खड़ा है वह पवित्र है। तब यहोशू ने वैसा ही किया॥  यहोशू 5:1

12 बाइबल की एतिहासिक पुस्तकों में यीशु का चित्रण-भाग 6

न्यायियों

न्यायाधीशों जज एंड लॉजिवर न्यायाधीशों में उल्लेखित किया गया

(क्योंकि वह जीवित और मृत लोगों का सच्चा न्यायाधीश है)

12 बाइबल की एतिहासिक पुस्तकों में यीशु का चित्रण-भाग 6

रूत

दया द किंसमैन रिडीमर मसीहा बोअज़ और रूथ का वंशज होगा  (रूथ 4: 12-17)

बोअज़ की ज़िंदगी में टाइप किया गया – द किंसमैन रिडीमर (रूथ 2: 1)

  • नाओमी के पति एलीमेलेक के कुल में उसका एक बड़ा धनी कुटुम्बी था, जिसका नाम बोअज था।  रूत 2:1
  • और मोआबिन रूत ने नाओमी से कहा, मुझे किसी खेत में जाने दे, कि जो मुझ पर अनुग्रह की दृष्टि करे, उसके पीछे पीछे मैं सिला बीनती जाऊं।
  • उसने कहा, चली जा, बेटी। रूत 2:2
  • और जो सन्तान यहोवा इस जवान स्त्री के द्वारा तुझे दे उसके कारण से तेरा घराना पेरेस का सा हो जाए,
  • जो तामार से यहूदा के द्वारा उत्पन्न हुआ। रूत 4:12
  • तब बोअज ने रूत को ब्याह लिया, और वह उसकी पत्नी हो गई;
  • और जब वह उसके पास गया तब यहोवा की दया से उसको गर्भ रहा,

 उसके एक बेटा उत्पन्न हुआ। रूत 4:13

  • तब स्त्रियों ने नाओमी से कहा, यहोवा धन्य है, जिसने तुझे आज छुड़ाने वाले कुटुम्बी के बिना नहीं छोड़ा;
  • इस्राएल में इसका बड़ा नाम हो।  रूत 4:14
  • और यह तेरे जी में जी ले आनेवाला और तेरा बुढ़ापे में पालनेवाला हो,
  • क्योंकि तेरी बहू जो तुझ से प्रेम रखती और सात बेटों से भी तेरे लिये श्रेष्ट है उसी का यह बेटा है। रूत 4:15
  • फिर नाओमी उस बच्चे को अपनी गोद में रखकर उसकी धाई का काम करने लगी।  रूत 4:16
  • और उसकी पड़ोसिनों ने यह कहकर, कि नाओमी के एक बेटा उत्पन्न हुआ है,
  • लड़के का नाम ओबेद रखा।
  • यिशै का पिता और दाऊद का दादा वही हुआ॥  रूत 4:17

12 बाइबल की एतिहासिक पुस्तकों में यीशु का चित्रण-भाग 6

1 & 2 शमूएल

मसीहा ‘रॉक’ (2 सैम 23) होगा : 2-3, 1 कोर 10: 4)

प्रभु के पैगंबर मसीहा भगवान के साथ शक्ति से बढ़ा (1 शमुएल 2:10, मत्ती 28:18)

जो यहोवा से झगड़ते हैं वे चकनाचूर होंगे; वह उनके विरुद्ध आकाश में गरजेगा। यहोवा पृथ्वी की छोर तक न्याय करेगा; और अपने राजा को बल देगा, और अपने अभिषिक्त के सींग को ऊंचा करेगा॥  1 शमूएल 2:10

यीशु ने उन के पास आकर कहा, कि स्वर्ग और पृथ्वी का सारा अधिकार मुझे दिया गया है। मत्ती 28:18

मसीहा डेविड का वंशज होगा (2 शमुएल 7: 12-16, मत्ती 1: 1)

जब तेरी आयु पूरी हो जाएगी, और तू अपने पुरखाओं के संग सो जाएगा, तब मैं तेरे निज वंश को तेरे पीछे खड़ा करके उसके राज्य को स्थिर करूंगा। शमूएल 7:12

मेरे नाम का घर वही बनवाएगा, और मैं उसकी राजगद्दी को सदैव स्थिर रखूंगा।  2 शमूएल 7:13

मैं उसका पिता ठहरूंगा, और वह मेरा पुत्र ठहरेगा। यदि वह अधर्म करे, तो मैं उसे मनुष्यों के योग्य दण्ड से, और आदमियों के योग्य मार से ताड़ना दूंगा।  2 शमूएल 7:14

परन्तु मेरी करुणा उस पर से ऐसे न हटेगी, जैसे मैं ने शाऊल पर से हटाकर उसको तेरे आगे से दूर किया।  2 शमूएल 7:15

वरन तेरा घराना और तेरा राज्य मेरे साम्हने सदा अटल बना रहेगा; तेरी गद्दी सदैव बनी रहेगी।  2 शमूएल 7:16

दाऊद के जीवन – निर्वासन (1 शमूयल 22)

मसीहा ‘रॉक’ (2 सैम 23) होगा : 2-3, 1 कुरिंथियों 10: 4)

यहोवा का आत्मा मुझ में हो कर बोला, और उसी का वचन मेरे मुंह में आया।  2 शमूएल 23:2

इस्राएल के परमेश्वर ने कहा है, इस्राएल की चट्टान ने मुझ से बातें की है, कि मनुष्यों में प्रभुता करने वाला एक धमीं होगा, जो परमेश्वर का भय मानता हुआ प्रभुता करेगा, 2 शमूएल 23:3

और सब ने एक ही आत्मिक जल पीया, क्योंकि वे उस आत्मिक चट्टान से पीते थे, जो उन के साथ-साथ चलती थी; और वह चट्टान मसीह था। 1 कुरिन्थियों 10:4

योनाथन का जीवन – वफादार दोस्त (1 शमुएल 18: 1-4)

जब वह शाऊल से बातें कर चुका, तब योनातान का मन दाऊद पर ऐसा लग गया, कि योनातान उसे अपने प्राण के बराबर प्यार करने लगा।  1 शमूएल 18:1

12 बाइबल की एतिहासिक पुस्तकों में यीशु का चित्रण-भाग 6

1 और 2 राजों (किंग्स)

राज करने वाला राजा सुलैमान के जीवन में (सहस्त्राब्दी शासनकाल)

पैगंबर एलीशा के जीवन और चमत्कारिक रोटी , 2 राजा 4:42 को बढ़ाना, कोढ़ से चंगाई 2 राजा 5)

  •   कोई मनुष्य बालशालीशा से, पहिले उपजे हुए जव की बीस रोटियां,
  • और अपनी बोरी में हरी बालें परमेश्वर के भक्त के पास ले आया; तो एलीशा ने कहा, उन लोगों को खाने के लिये दे। 2 राजा 4:42

कोढ़ से चंगाई एलिशा द्वारा।

  • अराम के राजा का नामान नाम सेनापति अपने स्वामी की दृष्टि में बड़ा और प्रतिष्ठित पुरुष था,
  • क्योंकि यहोवा ने उसके द्वारा अरामियों को विजयी किया था, और यह शूरवीर था, परन्तु कोढ़ी था।  2 राजा 5:1
  • अरामी लोग दल बान्ध कर इस्राएल के देश में जा कर वहां से एक छोटी लड़की बन्धुवाई में ले आए थे
  • और वह नामान की पत्नी की सेवा करती थी।  2 राजा 5:2
  • उसने अपनी स्वामिन से कहा, जो मेरा स्वामी शोमरोन के भविष्यद्वक्ता के पास होता, तो क्या ही अच्छा होता!

क्योंकि वह उसको कोढ़ से चंगा कर देता। 2 राजा 5:3

  • तो किसी ने उसके प्रभु के पास जा कर कह दिया, कि इस्राएली लड़की इस प्रकार कहती है।  2 राजा 5:4
  • अराम के राजा ने कहा, तू जा, मैं इस्राएल के राजा के पास एक पत्र भेजूंगा;
  • तब वह दस किक्कार चान्दी और छ:हजार टुकड़े सोना,
  • और दस जोड़े कपड़े साथ ले कर रवाना हो गया।  2 राजा 5:5
  • और वह इस्राएल के राजा के पास वह पत्र ले गया जिस में यह लिखा था, कि जब यह पत्र तुझे मिले,
  • तब जानना कि मैं ने नामान नाम अपने एक कर्मचारी को तेरे पास इसलिये भेजा है,
  • कि तू उसका कोढ़ दूर कर दे।  2 राजा 5:
  • इस पत्र के पढ़ने पर इस्राएल का राजा अपने वस्त्र फाड़ कर बोला,
  • क्या मैं मारने वाला और जिलाने वाला परमेश्वर हूँ कि उस पुरुष ने मेरे पास किसी को इसलिये भेजा है कि मैं उसका कोढ़ दूर करूं?

सोच विचार तो करो, वह मुझ से झगड़े का कारण ढूंढ़ता होगा।  2 राजा 5:7

  •  यह सुनकर कि इस्राएल के राजा ने अपने वस्त्र फाड़े हैं, परमेश्वर के भक्त एलीशा ने राजा के पास कहला भेजा,
  • तू ने क्यों अपने वस्त्र फाड़े हैं? वह मेरे पास आए, तब जान लेगा, कि इस्राएल में भविष्यद्वक्ता तो है।  2 राजा 5:8
  • तब नामान घोड़ों और रथों समेत एलीशा के द्वार पर आकर खड़ा हुआ।  2 राजा 5:9
  •  एलीशा ने एक दूत से उसके पास यह कहला भेजा, कि तू जा कर यरदन में सात बार डुबकी मार,

तब तेरा शरीर ज्यों का त्यों हो जाएगा, और तू शुद्ध होगा। 2 राजा 5:10

  • परन्तु नामान क्रोधित हो यह कहता हुआ चला गया, कि मैं ने तो सोचा था, कि अवश्य वह मेरे पास बाहर आएगा,
  • और खड़ा हो कर अपने परमेश्वर यहोवा से प्रार्थना कर के कोढ़ के स्थान पर अपना हाथ फेर कर कोढ़ को दूर करेगा! 2 राजा 5:11
  • क्या दमिश्क की अबाना और पर्पर नदियां इस्राएल के सब जलाशयों से अत्तम नहीं हैं?

क्या मैं उन में स्नान कर के शुद्ध नहीं हो सकता हूँ?

  • इसलिये वह जलजलाहट से भरा हुआ लौट कर चला गया।  2 राजा 5:12
  • तब उसके सेवक पास आकर कहने लगे, हे हमारे पिता यदि भविष्यद्वक्ता तुझे कोई भारी काम करने की आज्ञा देता, तो क्या तू उसे न करता?
  • फिर जब वह कहता है, कि स्नान कर के शुद्ध हो जा, तो कितना अधिक इसे मानना चाहिये।  2 राजा 5:13
  •  तब उसने परमेश्वर के भक्त के वचन के अनुसार यरदन को जा कर उस में सात बार डुबकी मारी,
  • और उसका शरीर छोटे लड़के का सा हो गया; उौर वह शुद्ध हो गया।  2 राजा 5:14
  • तब वह अपने सब दल बल समेत परमेश्वर के भक्त के यहां लौट आया, और उसके सम्मुख खड़ा हो कर कहने लगा सुन,

अब मैं ने जान लिया है, कि समस्त पृथ्वी में इस्राएल को छोड़ और कहीं परमेश्वर नहीं है।

  • इसलिये अब अपने दास की भेंट ग्रहण कर।  2 राजा 5:15
  •  एलीशा ने कहा, यहोवा जिसके सम्मुख मैं उपस्थित रहता हूँ उसके जीवन की शपथ मैं कुछ भेंट न लूंगा,
  • और जब उसने उसको बहुत विवश किया कि भेंट को ग्रहण करे, तब भी वह इनकार ही करता रहा।  2 राजा 5:16
  • तब नामान ने कहा, अच्छा, तो तेरे दास को दो खच्चर मिट्टी मिले,
  • क्योंकि आगे को तेरा दास यहोवा को छोड़ और किसी ईश्वर को होमबलि वा मेलबलि न चढ़ाएगा।  2 राजा 5:17

एक बात तो यहोवा तेरे दास के लिये क्षमा करे, कि जब मेरा स्वामी रिम्मोन के भवन में दण्डवत करने को जाए,

  • और वह मेरे हाथ का सहारा ले, और यों मुझे भी रिम्मोन के भवन में दण्डवत करनी पड़े,
  • तब यहोवा तेरे दास का यह काम क्षमा करे कि मैं रिम्मोन के भवन में दण्डवत करूं। 2 राजा 5:18
  • उसने उस से कहा, कुशल से बिदा हो।  2 राजा 5:19
  • वह उसके यहां से थोड़ी दूर जला गया था, कि परमेश्वर के भक्त एलीशा का सेवक गेहजी सोचने लगा,
  • कि मेरे स्वामी ने तो उस अरामी नामान को ऐसा ही छोड़ दिया है कि जो वह ले आया था उसको उसने न लिया,
  • परन्तु यहोवा के जीवन की शपथ मैं उसके पीछे दौड़कर उस से कुछ न कुछ ले लूंगा।  2 राजा 5:20

तब गेहजी नामान के पीछे दौड़ा, और नामान किसी को अपने पीछे दौड़ता हूआ देख कर,

  • उस से मिलने को रथ से उतर पड़ा, और पूछा, सब कुशल क्षेम तो है?  2 राजा 5:21
  • उसने कहा, हां, सब कुशल है; परन्तु मेरे स्वामी ने मुझे यह कहने को भेजा है,
  • कि एप्रैम के पहाड़ी देश से भविष्यद्वक्ताओं के चेलों में से दो जवान मेरे यहां अभी आए हैं,

इसदिये उनके लिये एक किक्कार चान्दी और दो जोड़े वस्त्र दे।  2 राजा 5:22

  • नामान ने कहा, दो किक्कार लेने को प्रसन्न हो, तब उसने उस से बहुत बिनती कर के दो किक्कार चान्दी अलग थैलियों में बान्ध कर,
  • दो जोड़े वस्त्र समेत अपने दो सेवकों पर लाद दिया, और वे उन्हें उसके आगे आगे ले चले।  2 राजा 5:23
  • जब वह टीले के पास पहुंचा, तब उसने उन वस्तुओं को उन से ले कर घर में रख दिया,
  • और उन मनुष्यों को बिदा किया, और वे चले गए।  2 राजा 5:24
  • और वह भीतर जा कर, अपने स्वामी के साम्हने खड़ा हुआ।

एलीशा ने उस से पूछा, हे गेहजी तू कहां से आता है?

  • उसने कहा, तेरा दास तो कहीं नहीं गया,  2 राजा 5:25
  • उसने उस से कहा, जब वह पुरुष इधर मुंह फेर कर तुझ से मिलने को अपने रथ पर से उतरा,
  • तब वह पूरा हाल मुझे मालूम था; क्या यह समय चान्दी वा वस्त्र वा जलपाई वा दाख की बारियां, भेड़-बकरियां, गायबैल और दास-दासी लेने का है? 2 राजा 5:26
  • इस कारण से नामान का कोढ़ तुझे और तेरे वंश को सदा लगा रहेगा। तब वह हिम सा श्वेत कोढ़ी हो कर उसके साम्हने से चला गया। 2 राजा 5:27

12 बाइबल की एतिहासिक पुस्तकों में यीशु का चित्रण-भाग 6

1 और 2 इतिहास

गौरवशाली मंदिर, मसीहा यहूदा के गोत्र से होगा (1 इतिहास 5: 2, लूका 3: 23-32)

  •  क्योकि यहूदा अपने भाइयों पर प्रबल हो गया,
  • और प्रधान उसके वंश से हुआ परन्तु जेठे का अधिकार यूसुफ का था।  1 इतिहास 5:2
  • जब यीशु आप उपदेश करने लगा, जो लगभग तीस वर्ष की आयु का था
  • और (जैसा समझा जाता था) यूसुफ का पुत्र था; और वह एली का।  लूका 3:23
  •   वह मत्तात का, लेवी का, और वह मलकी का,  वह यन्ना का, यूसुफ का।  लूका 3:24
  •   मत्तित्याह का, और वह आमोस का,  वह नहूम का, और वह असल्याह का, और वह नोगह का।  लूका 3:25
  •   वह मात का, और वह मत्तित्याह का,  शिमी का, योसेख का, वह योदाह का। लूका 3:26
  •   यूहन्ना का, और  रेसा का,  वह जरूब्बाबिल का, वह शालतियेल का, और वह नेरी का।  लूका 3:27
  •    मलकी का, और वह अद्दी का,   कोसाम का,   इलमोदाम का, और वह एर का। लूका 3:28
  •  वह येशू का, और वह इलाजार का,  वह योरीम का,  मत्तात का, और वह लेवी का। लूका 3:29
  •  और वह शमौन का, और वह यहूदाह का,  वह यूसुफ का, और वह योनान का, और वह इलयाकीम का। लूका 3:30
  •  वह मलेआह का, और वह मिन्नाह का,  वह मत्तता का, और वह नातान का, और वह दाऊद का। लूका 3:31
  •   वह यिशै का, और वह ओबेद का,  वह बोअज का, और वह सलमोन का, और वह नहशोन का। लूका 3:32

सुलैमान के मंदिर के रूप में  प्रदर्शित किया गया । सुलैमान की बुद्धि में (2 इतिहास 9:22)

  • यों राजा सुलैमान धन और बुद्धि में पृथ्वी के सब राजाओं से बढ़ कर हो गया। 2 इतिहास 9:22

12 बाइबल की एतिहासिक पुस्तकों में यीशु का चित्रण-भाग 6

एज्रा

  1. आस्था का सूत्र

  2. ज़ुर्बबेल के व्यक्ति में विशिष्ट,

  3. मंदिर का पुनर्निर्माण (एज्रा 4)

  • जरुब्बाबेल, येशू और इस्राएल के पितरों के घरानों के मुख्य पुरुषों ने उन से कहा,
  • हमारे परमेश्वर के लिये भवन बनाने में तुम को हम से कुछ काम नहीं;
  • हम ही लोग एक संग मिल कर फारस के राजा कुस्रू की आज्ञा के अनुसार इस्राएल के परमेश्वर यहोवा के लिये उसे बनाएंगे।  एज्रा 4:3

12 बाइबल की एतिहासिक पुस्तकों में यीशु का चित्रण-भाग 6

नहेमायाह

  1. दीवारों का पुनर्निर्माण,

  2. मोक्ष की दीवारों के पुनर्निर्माण के लिए,

  3. नहेमायाह के व्यक्ति में टाइप किया गया

  •  क्या तुम राजा के विरुद्ध बलवा करोगे? तब मैं ने उन को उत्तर देकर उन से कहा, स्वर्ग का परमेश्वर हमारा काम सफल करेगा,
  • इसलिये हम उसके दास कमर बान्धकर बनाएंगे; परन्तु यरूशलेम में तुम्हारा न तो कोई भाग, न हक्क, न स्मारक है।  नहेमायाह 2:20
  • तब एल्याशीब महायाजक ने अपने भाई याजकों समेत कमर बान्धकर भेड़फाटक को बनाया।
  • उन्होंने उसकी प्रतिष्ठा की, और उसके पल्लों को भी लगाया;
  • और हम्मेआ नाम गुम्मट तक वरन हननेल के गुम्मट के पास तक उन्होंने शहरपनाह की प्रतिष्ठा की।  नहेमायाह 3:1
  • उस से आगे यरीहो के मनुष्यों ने बनाया।
  • और इन से आगे इम्री के पुत्र जक्कूर ने बनाया।  नहेमायाह 3:2
  • फिर मछलीफाटक को हस्सना के बेटों ने बनाया; उन्होंने उसकी कडिय़ां लगाई,

और उसके पल्ले, ताले और बेंड़े लगाए। नहेमायाह 3:3

  • और उन से आगे मरेमोत ने जो हक्कोस का पोता और ऊरियाह का पुत्र था, मरम्मत की।
  •  इन से आगे मशुल्लाम ने जो मशेजबेल का पोता, और बरेक्याह का पुत्र था, मरम्मत की।
  • और इस से आगे बाना के पुत्र सादोक ने मरम्मत की।  नहेमायाह 3:4
  •  इन से आगे तकोइयों ने मरम्मत की; परन्तु उनके रईसों ने अपने प्रभु की सेवा का जूआ अपनी गर्दन पर न लिया।  नहेमायाह 3:5
  • फिर पुराने फाटक की मरम्मत पासेह के पुत्र योयादा और बसोदयाह के पुत्र मशुल्लाम ने की;
  • उन्होंने उसकी कडिय़ां लगाई, और उसके पल्ले, ताले और बेंड़े लगाए।  नहेमायाह 3:6
  •  उन से आगे गिबोनी मलत्याह और मेरोनोती यादोन ने और गिबोन
  • और मिस्पा के मनुष्यों ने महानद के पार के अधिपति के सिंहासन की ओर से मरम्मत की।  नहेमायाह 3:7
  •  उन से आगे हर्हयाह के पुत्र उजीएल ने और और सुनारों ने मरम्मत की।
  • और इस से आगे हनन्याह ने, जो गन्धियों के समाज का था, मरम्मत की;

 उन्होंने चौड़ी शहरपनाह तक यरूशलेम को दृढ़ किया।  नहेमायाह 3:8

  • और उन से आगे हूर के पुत्र रपायाह ने, जो यरूशलेम के आधे जिले का हाकिम था, मरम्मत की।  नहेमायाह 3:9
  •   उन से आगे हरुमप के पुत्र यदायाह ने अपने ही घर के साम्हने मरम्मत की;
  • और इस से आगे हशब्नयाह के पुत्र हत्तूश ने मरम्मत की।  नहेमायाह 3:10
  • हारीम के पुत्र मल्कियाह और पहत्तोआब के पुत्र हश्शूब ने एक और भाग की,
  • और भट्टों के गुम्मट की मरम्मत की। नहेमायाह 3:11
  • इस से आगे यरूशलेम के आधे जिले के हाकिम हल्लोहेश के पुत्र शल्लूम ने अपनी बेटियों समेत मरम्मत की।  नहेमायाह 3:12
  • तराई के फाटक की मरम्मत हानून और जानोह के निवासियों ने की; उन्होंने उसको बनाया,
  • और उसके ताले, बेंड़े और पल्ले लगाए,  हजार हाथ की शहरपनाह को भी अर्थात कूड़ाफाटक तक बनाया।  नहेमायाह 3:13
  • और कूड़ाफाटक की मरम्मत रेकाब के पुत्र मल्कियाह ने की, जो बेथक्केरेम के जिले का हाकिम था;

उसी ने उसको बनाया, और उसके ताले, बेंड़े और पल्ले लगाए।  नहेमायाह 3:14

  • सोताफाटक की मरम्मत कोल्होजे के पुत्र शल्लूम ने की, जो मिस्पा के जिले का हाकिम था;
  • उसी ने उसको बनाया और पाटा, और उसके ताले, बेंड़े और पल्ले लगाए;
  • उसी ने राजा की बारी के पास के शेलह नाम कुणड की शहरपनाह को भी दाऊदपुर से उतरने वाली सीढ़ी तक बनाया।  नहेमायाह 3:15
  •  उसके बाद अजबूक के पुत्र नहेमायाह ने जो बेतसूर के आधे जिले का हाकिम था,
  • दाऊद के कब्रिस्तान के साम्हने तक और बनाए हुए पोखरे तक, वरन वीरों के घर तक भी मरम्मत की।  नहेमायाह 3:16
  • इसके बाद बानी के पुत्र रहूम ने कितने लेवियों समेत मरम्मत की।
  • इस से आगे कीला के आधे जिले के हाकिम हशब्याह ने अपने जिले की ओर से मरम्मत की। नहेमायाह 3:17
  •  उसके बाद उनके भाइयों समेत कीला के आधे जिले के हाकिम हेनादाद के पुत्र बव्वै ने मरम्मत की। नहेमायाह 3:18
  •  उस से आगे एक और भाग की मरम्मत जो शहरपनाह के मोड़ के पास शस्त्रें के घर की चढ़ाई के साम्हने है,

येशु के पुत्र एज़ेर ने की, जो मिस्पा का हाकिम था। नहेमायाह 3:19

  •  फिर एक और भाग की अर्थात उसी मोड़ से ले एल्याशीब महायाजक के घर के द्वार तक की मरम्मत जब्बै के पुत्र बारूक ने तन मन से की। नहेमायाह 3:20
  • इसके बाद एक और भाग की अर्थात एल्याशीब के घर के द्वार से ले उसी घर के सिरे तक की मरम्मत,
  • मरेमोत ने की, जो हक्कोस का पोता और ऊरियाह का पुत्र था। नहेमायाह 3:21
  • उसके बाद उन याजकों ने मरम्मत की जो तराई के मनुष्य थे।  नहेमायाह 3:22
  • उनके बाद बिन्यामीन और हश्शूब ने अपने घर के साम्हने मरम्मत की;
  •  इनके पीछे अजर्याह ने जो मासेयाह का पुत्र और अनन्याह का पोता था अपने घर के पास मरम्मत की।  नहेमायाह 3:23
  • तब एक और भाग की, अर्थात अजर्याह के घर से ले कर शहरपनाह के मोड़ तक वरन उसके कोने तक की मरम्मत हेनादाद के पुत्र बिन्नूई ने की। नहेमायाह 3:24
  •  फिर उसी मोड़ के साम्हने जो ऊंचा गुम्मट राजभवन से बाहर निकला हुआ बन्दीगृह के आंगन के पास है, उसके साम्हने ऊजै के पुत्र पालाल ने मरम्मत की।

इसके बाद परोश के पुत्र पदायाह ने मरम्मत की।  नहेमायाह 3:25

  • नतीन लोग तो ओपेल में पूरब की ओर जलफाटक के साम्हने तक और बाहर निकले हुए गुम्मट तक रहते थे।  नहेमायाह 3:26
  • पदायाह के बाद तकोइयों ने एक और भाग की मरम्मत की, जो बाहर निकले हुए बड़े गुम्मट के साम्हने और ओबेल की शहरपनाह तक है।  नहेमायाह 3:27
  • फिर घोड़ाफाटक के ऊपर याजकों ने अपने अपने घर के साम्हने मरम्मत की।  नहेमायाह 3:28
  • इनके बाद इम्मेर के पुत्र सादोक ने अपने घर के साम्हने मरम्मत की;
  • और तब पूरवी फाटक के रखवाले शकन्याह के पुत्र समयाह ने मरम्मत की। नहेमायाह 3:29
  •  इसके बाद शेलेम्याह के पुत्र हनन्याह और सालाप के छठवें पुत्र हानून ने एक और भाग की मरम्मत की।

तब बेरेक्याह के पुत्र मशुल्लाम ने अपनी कोठरी के साम्हने मरम्मत की।  नहेमायाह 3:30

  • उसके बाद मल्कियाह ने जो सुनार था नतिनों और व्यापारियों के स्थान तक ठहराए हुए स्थान के फाटक के साम्हने और कोने के कोठे तक मरम्मत की। नहेमायाह 3:31
  • और कोने वाले कोठे से ले कर भेड़फाटक तक सुनारों और व्यापारियों ने मरम्मत की।  नहेमायाह 3:32
  • जब सम्बल्लत, तोबियाह और अरबी गेशेम और हमारे और शत्रुओं को यह समाचार मिला, कि मैं शहरपनाह को बनवा चुका;
  • और यद्यपि उस समय तक भी मैं फाटकों में पल्ले न लगा चुका था, तौभी शहरपनाह में कोई दरार न रह गया था।  नहेमायाह 6:1
  •  जिस में यों लिखा था, कि जाति जाति के लोगों में यह कहा जाता है,
  • और गेशेम भी यही बात कहता है, कि तुम्हारी और यहूदियों की मनसा बलवा करने की है,
  • और इस कारण तू उस शहरपनाह को बनवाता है;  तू इन बातों के अनुसार उनका राजा बनना चाहता है।  नहेमायाह 6:6

जब शहरपनाह बन गई, और मैं ने उसके फाटक खड़े किए, और द्वारपाल, गवैये, और लेवीय लोग ठहराये गए,  नहेमायाह 7:1

  • तब मैं ने अपने भाई हनानी और राजगढ़ के हाकिम हनन्याह को यरूशलेम का अधिकारी ठहराया,
  • क्योंकि यह सच्चा पुरुष और बहुतेरों से अधिक परमेश्वर का भय मानने वाला था।  नहेमायाह 7:2
  •  मैं ने उन से कहा, जब तक घाम कड़ा न हो, तब तक यरूशलेम के फाटक न खोले जाएं और जब पहरुए पहरा देते रहें,
  • तब ही फाटक बन्द किए जाएं और बेड़े लगाए जाएं।
  • फिर यरूशलेम के निवासियों में से तू रखवाले ठहरा जो अपना अपना पहरा अपने अपने घर के साम्हने दिया करें।  नहेमायाह 7:3

 एस्थर

– मोर्दकै के व्यक्ति में टाइप किया गया

बादल और आग-गिनती 20- भाग-4 गिनती की पुस्तक