शक्ति के 48 नियम: 11-21 | Book Summary Of The 48 Laws Of Power In Hindi By Robert Greene (Part 2)

शक्ति के 48 नियम: 11-21 | Book Summary Of The 48 Laws Of Power In Hindi By Robert Greene (Part 2)

शक्ति के 48 नियम: 11-21 | Book Summary Of The 48 Laws Of Power In Hindi By Robert Greene

(Part 2)

2. शक्ति के 48 नियम: 11-21 | Book Summary Of The 48 Laws Of Power In Hindi By Robert Greene

शक्ति के 48 नियम: 11-21 | Book Summary Of The 48 Laws Of Power In Hindi By Robert Greene (Part 2). बिजली के इतिहास के 3000 साल से तैयार है, इस में पाठकों की सहायता करने के लिए निश्चित गाइड खुद के लिए लक्ष्य को हासिल क्या महारानी एलिजाबेथ, हेनरी किसिंजर, लुई XIV और मैकियावेली मुश्किल तरीके से सीखा है। शक्ति के 48 नियम एक से दस (1-10) नियम के लिये भाग 1 पढ़िये।  शक्ति के 48 नियम: 1-10 | Book Summary Of The 48 Laws Of Power In Hindi By Robert Greene

शक्ति के 48 नियम: 11-21 | Book Summary Of The 48 Laws Of Power In Hindi By Robert Greene
शक्ति के 48 नियम: 11-21 | Book Summary Of The 48 Laws Of Power In Hindi By Robert Greene.

शक्ति का नियम 11- लोगों को अपने ऊपर निर्भर करना सीखें,

  • लोगों को अपने ऊपर निर्भर करके आप लोगों में अपने बजूद व अहमियत को ताकतवर बनायें ।
    LAW 11: LEARN TO KEEP PEOPLE DEPENDENT ON YOU अपनी आज़ादी को बनाए रखने के लिए आपको हमेशा चाहिए और चाहिए।
  • जितना अधिक आप पर निर्भर होते हैं, उतनी अधिक स्वतंत्रता आपके पास होती है।
  • लोगों को अपनी खुशी और समृद्धि के लिए आप पर निर्भर करें और आपको डरने की कोई बात नहीं है।
  • उन्हें कभी इतना न सिखाएं कि वे आपके बिना कर सकें।

उदाहरण-

  • जर्मनी के एक राजनीतिज्ञ और नेता Von Bismark ने एक Federick William नाम का एक कमजोर राजा खोजा जो Prussia का राजा था ।
  • Bismark ने राजा को पूरी तरह अपने ऊपर निर्भर कर लिया, उसने राज्य में अपनी स्थिति को इतना मजबूत बना लिया कि राज्य में उसकी तरह कोई और निर्णय नहीं ले सकता था ।
  • राजा की मृत्यु के बाद राजा का भाई उसकी जगह गद्दी पर बैठा, वह भी अपने सभी मुख्य कार्यो के लिए Bismark पर निर्भर हुआ ।
  • जब आप लोगों को अपने ऊपर निर्भर करना सीख जाते हैं, तो उनके बीच आपकी स्थिति इतनी मजबूत हो जाती है कि लोग आपको नजरअंदाज नहीं कर सकते, आप उनका इस्तेमाल अपने हिसाब से कर सकते हैं|

शक्ति का नियम 12- अपनी ईमानदारी और उदारता से अपने शिकार को बस में करें,

  • अपनी ईमानदारी से लोगों के सुरक्षा कवच को भेदे |
  • LAW 12: अपने चयन की ईमानदार और उदारता का उपयोग करने के लिए अपनी ईमानदारी का उपयोग करें,
  • एक ईमानदार और ईमानदार कदम दर्जनों बेईमानों को कवर करेगा।
  • ईमानदारी और उदारता के खुले दिल के इशारे यहां तक ​​कि सबसे संदिग्ध लोगों के पहरेदार को नीचे लाते हैं।एक बार जब आपकी चयनात्मक ईमानदारी उनके कवच में छेद खोल देती है, तो आप उन्हें धोखा दे सकते हैं और उन्हें अपनी इच्छा से छेड़छाड़ कर सकते हैं।
  • एक समय पर उपहार-एक ट्रोजन घोड़ा-एक ही उद्देश्य की सेवा करेगा।
  • लोग जल्दी ही किसी पर यकीन नहीं करते, अगर आप उन्हें अपनी उदारता और ईमानदारी दिखायेंगे तो आप जैसे चाहें उस तरह उनका इस्तेमाल कर सकते हैं|

शक्ति का नियम 13- जब आप किसी से मदद लेने जाएँ तो उनकी रूचि को ध्यान में रखें,

  • आपको उनके intrest के बारे में पता होना चाहिए कि वो आपसे क्या चाहते हैं ।
  • LAW 13: जब लोगों की मदद के लिए चुने जाने का समय हो, तो उन लोगों के बारे में बताएं, जो कभी मुरी या विदेश में रहते हैं, अगर आपको मदद के लिए सहयोगी बनने की जरूरत है, तो उन्हें अपने पिछले सहयोग और अच्छे कामों की याद दिलाने की जहमत न उठाएं।
  • वह आपको नजरअंदाज करने का तरीका खोज लेगा।
  • इसके बजाय, अपने अनुरोध में, या उसके साथ अपने गठबंधन में कुछ को उजागर करें, जो उसे लाभान्वित करेगा, और इसे सभी अनुपात से बाहर जोर देगा।
  • जब वह अपने लिए कुछ हासिल करता है, तो वह उत्साह से जवाब देगा।
  • यदि आप किसी से मदद लेने जाते हैं तो यह ध्यान रखें कि उन्हें किस चीज की जरूरत है,
  • और कुछ एसा ऑफर करें जिसकी उन्हें उस समय जरूरत हो तो निश्चित ही वो आपकी मदद के लिए तैयार हो जायेंगे,
  • लोग स्वार्थी होते हैं उन्हें मदद के बदले कुछ ना कुछ चाहिए खासकर जब आपको किसी चीज की जरूरत हो |

शक्ति का नियम 14- दोस्त की तरह दिखें और जासूस की तरह काम करें ।

  • LAW 14: एक दोस्त के रूप में, एक प्रतिद्वंद्वी के रूप में काम करता है अपने प्रतिद्वंद्वी के बारे में जानना महत्वपूर्ण है।
  • बहुमूल्य जानकारी इकट्ठा करने के लिए जासूसों का उपयोग करें जो आपको एक कदम आगे रखेगा।
  • बेहतर अभी भी: अपने आप को जासूस खेलते हैं।
  • विनम्र सामाजिक मुठभेड़ों में, जांच के लिए लीक।
  • लोगों से उनकी कमजोरियों और इरादों को प्रकट करने के लिए अप्रत्यक्ष प्रश्न पूछें।
  • ऐसा कोई अवसर नहीं है जो कला जुल जासूसी का अवसर नहीं है।

उदाहरण-

  • Charies Maurice जो कि फ्रांस के महान राजनीतिज्ञ और कूटनीतिज्ञ थे, वे अपने विचार कभी भी किसी को नहीं बताते थे ।
  • वो सभी को अपने विचार प्रकट करने का मौका हमेशा देते थे, जिससे कि वो लोगों की योजनाओं के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकें, वो अपने विचार और योजनाओं को छुपाने में माहिर थे ।
  • Charies Maurice दूसरों से जानकारी प्राप्त करने के लिए लोगों से इस तरह से बातें करते थे, जिससे लोगों को लगता था कि वो उन्हें कोई राज बता रहे हैं, इस तरकीब से लोग उन्हें अपनी जानकारी बताने के लिए उत्सुक हो जाते थे |

शक्ति का नियम 15- अपने दुश्मन को पूरी तरह से खत्म कर दें,

  • कौटिल्य से अनुसार अपने दुश्मन को कभी कमजोर समझकर नजरंदाज मत करें, दुश्मन के अवशेष बीमारी और आग की तरह होते हैं जो समय के साथ साथ और भी खतरनाक बन जाता है|
  • LAW 15 अपने देश को पूरी तरह से तैयार करें, क्योंकि सभी महान नेता मूसा को जानते हैं कि एक भयभीत दुश्मन को पूरी तरह से कुचल दिया जाना चाहिए।
  • कभी-कभी उन्होंने इसे कठिन तरीके से सीखा है।
  • अगर एक अंगारे को छोड़ दिया जाता है, तो चाहे वह कितना भी मंद क्यों न हो, आग अंततः नष्ट हो जाएगी।
  • कुल विनाश से आधे रास्ते को रोकने के माध्यम से अधिक खो गया है: दुश्मन ठीक हो जाएगा, और बदला लेना चाहेगा।
  • न केवल शरीर में बल्कि आत्मा में भी उसे कुचल दें।
  • यहाँ पर आपका असली दुश्मन आपकी परिस्थितियों से है, आपकी परिस्थितियां चाहे कैसी भी हो आप हमेशा उन पर हावी रहें|
  • आप चाहे कहीं भी काम करते हों, अपने कार्यक्षेत्र में हमेशा हमेशा अपनी परिस्थितियों से आगे रहें, जिससे कि आप अपने साथ काम करने वाले लोगों को मात दे सकें |
शक्ति के 48 नियम: 11-21 | Book Summary Of The 48 Laws Of Power In Hindi By Robert Greene.
शक्ति के 48 नियम: 11-21 | Book Summary Of The 48 Laws Of Power In Hindi By Robert Greene.

शक्ति का नियम 16- अपना आदर और प्रतिष्ठा बढ़ाने के लिए अपनी अनुपस्थि का प्रयोग करें ।

  • अगर आप आसानी से हर जगह लोगों के लिए उपलब्ध हो जाते हैं तो यह लोगों में आपके प्रति सम्मान कम करता है,
  • और उन्हें आपकी कमी महसूस नहीं होती ।
  • LAW 16 USE ABSENCE TO INCREASE RESPECT AND HONOR बहुत ज्यादा सर्कुलेशन के कारण कीमत में गिरावट आती है:
  • जितना अधिक आप देखे और सुने जाते हैं, उतने ही सामान्य दिखाई देते हैं।
  • यदि आप पहले से ही एक समूह में स्थापित हैं,
  • तो इससे अस्थाई निकासी आपको अधिक चर्चा में लाएगी, यहां तक ​​कि अधिक प्रशंसा भी।
  • आपको सीखना चाहिए कि कब छोड़ना है। कमी के माध्यम से मूल्य बनाएँ।

उदहारण-

  • जब Mademe Guillelma जितना अधिक अपने प्रेमी के लिए उपलब्ध रहती,
  • और आगे बढती तो उतनी ही अधिक साधारण लगती,
  • जब उसने अपने प्रेमी से मिलने के लिए मना कर दिया, तब उसके प्रेमी को उसकी कमी का अहसास हुआ,
  • उसके बाद वह उसकी दिल से प्रशंसा करने लगा और उसे बापस लाने के बारे में सोचने लगा ।
  • इसलिए लोगों के बीच अपनी प्रतिष्ठा बढाने के लिए अपनी अनुपस्थि का प्रयोग कीजिये |

Optimal Health

शक्ति के 48 नियम | Book Summary Of The 48 Laws Of Power In Hindi By Robert Greene

शक्ति का नियम 17- अपने आप को अप्रत्याशित बनाएं जिससे कि लोग आपके व्यवहार का फायदा ना उठा पायें,

  • जब लोग आपके व्यवहार से परिचित होते हैं और उन्हें पता होता है कि आप क्या करने वाले हैं तो वे अपनी चाल चल देते हैं ।
  • LAW 17 यात्रियों की संख्या में वृद्धि हुई है: मनुष्यों का निजी एयर इंडिया एक आदत है,
  • जिसे एक अतुलनीय आवश्यकता के साथ अन्य लोगों के धर्मों में परिचित देखने की आवश्यकता है।
  • आपकी पूर्व आहार क्षमता उन्हें नियंत्रण की भावना देती है।
  • तालिकाओं को जूम करें: जानबूझकर अप्रत्याशित हो। ऐसा लगता है कि व्यवहार में कोई निरंतरता या उद्देश्य नहीं है, जो उन्हें संतुलन बनाए रखेगा, और वे आपकी चालों को समझाने का प्रयास करेंगे। एक चरम पर ले जाया गया, यह रणनीति भयभीत और आतंकित कर सकती है।

उदाहरण-

  • जब Picaso एक मशहूर आर्टिस्ट बन गए थे, तब वो एक अमेरिकन संगीतकार Paul के साथ काम कर रहे थे।
  • जब एक दिन अचानक उन्होंने Paul के साथ काम करने से मना कर दिया जिसे Paul को जरा सा भी अंदाजा नहीं था, तो Paul ने Picaso को ज्यादा पैसे देने का फैसला किया |
  • जब लोग आपकी आदतों और व्यवहार से परिचित हो जाते हैं तो वे उसका फायदा उठाते हैं, और आपके खिलाफ षड़यंत्र बना सकते हैं, लेकिन जब आप अपने आपको अप्रत्याशित बना लेते हैं, कभी भी अप्रत्याशित कदम उठाते हैं, जिसकी लोगों को उम्मीद नहीं होती तो लोग आपके खिलाफ कोई षड़यंत्र नहीं बना सकते क्यों कि वो उसके लिए तैयार नहीं होते |

शक्ति का नियम 18- अपने बचाव के लिए अलगाव खतरनाक है,

  • जब आप दोस्तों और घर परिवार से अलग होते हैं तो आपको धोका देना उतना ही आसान है इसलिए अपने बचाव के लिए किले ना बनाएं ।
  • LAW 18 अपने आप को साबित करने के लिए निर्माण न करें- अलगाव खतरनाक है दुनिया खतरनाक है, और दुश्मन हर जगह हैं-हर किसी को अपनी रक्षा करनी होगी।
  • एक किला सबसे सुरक्षित लगता है। लेकिन अलगाव आपको अधिक खतरों से बचाता है क्योंकि यह आपकी रक्षा करता है, यह आपको निर्माण में मूल्यवान से काट देता है, यह आपको विशिष्ट और आसान लक्ष्य बनाता है।
  • लोगों के बीच घूमना, सहयोगियों को ढूंढना बेहतर है। आपको भीड़ द्वारा अपने दुश्मनों से बचा लिया जाता है।

Optimal Health

शक्ति के 48 नियम | Book Summary Of The 48 Laws Of Power In Hindi By Robert Greene

शक्ति का नियम 19 जब आप दोस्त और परिवार के साथ रहते हैं तो आप अपने दुश्मन से बचे रहते हैं,

  • और आपको सभी जरूरी आवश्यक सूचनाएं मिलती रहती हैं,
  • आपके अलग रहने से आपके लिए खतरा और भी बढ़ जाता है, दुश्मन की उपस्थिति हर जगह है ।
  • LAW 19 पता है कि आप गलत लोगों के साथ व्यवहार नहीं करते हैं, दुनिया में कई अलग-अलग प्रकार के लोग हैं, और आप कभी भी यह नहीं मान सकते हैं कि हर कोई आपकी रणनीतियों पर उसी तरह से प्रतिक्रिया देगा।
  • कुछ लोगों को धोखा देना या उन्हें छोड़ देना और वे अपना शेष जीवन बदला लेने के लिए बिताएंगे।
  • वे भेड़ के बच्चे के कपड़ों में भेड़िये हैं।
  • अपने पीड़ितों और विरोधियों को सावधानी से चुनें, फिर कभी गलत व्यक्ति को अपमानित या धोखा न दें।

शक्ति का नियम 20- कभी भी किसी से पक्का वायदा या कमिटमेंट ना करें,

  • यदि आप एसा करते हैं तो आपका नियंत्रण किसी और के हाथ में चला जाता है और आप उस कार्य को करने के लिए प्रतिवद्ध हो जाते हैं, इससे आपकी छवि हल्की होती है।
  • आपको अपनी छवि इस तरह बनानी चाहिए कि लोग आपसे संपर्क करने की कोशिस करें ।
    LAW 20 किसी की भी अवमानना ​​न करें यह वह जूल है जो हमेशा पक्ष लेने के लिए भागता है।
  • किसी भी पक्ष या कारण के लिए प्रतिबद्ध न हों बल्कि स्वयं।अपनी स्वतंत्रता को बनाए रखते हुए, आप एक-दूसरे के खिलाफ खेलने वाले लोगों के स्वामी बन जाते हैं, जिससे वे आपका पीछा करते हैं।

उदाहारण –

  • Alcibiades जो एक ग्रीक का प्रभावी योद्धा और राजनेता था, लोग उससे बहुत प्रभावित थे, उसने किसी को कमिटमेंट ना देकर सभी को प्रभावित किया हुआ था, इसलिए Athenians और Spartans उसका ख़ास ध्यान रखते थे क्यों कि सभी Persianians उससे बहुत ही प्रभावित थे तथा उसका आदर करते थे।
  • किसी से कमिटमेंट का मतलब है खुद को दूसरे के हवाले कर देना, इस तरह से आपका खुद पर नियंत्रण कम हो जाता है और आपका कर्तव्य बढ़ जाता है, इसलिए मजबूत छवि बनाने के लिए आपको जरूरी है कि आप किसी से पक्का वायदा ना करें, और खुद की एक मजबूत छबि बनाएं।

Optimal Health

शक्ति के 48 नियम | Book Summary Of The 48 Laws Of Power In Hindi By Robert Greene

शक्ति का नियम 21- अपने प्रतियोगी को हमेशा अपने से अधिक होशियार समझने का मौका दें,

  • और उसके सामने मूर्ख दिखने का ढोंग रचाएं, यदि एक बार उसे यकीन हो गया कि वो आपसे अधिक बुद्धिमान और शक्तिशाली है तो उसे कभी नहीं लगेगा कि आपके कोई उद्देश्य भी हो सकते हैं ।
  • LAW 21 PLAY A SUCKER TO CATCH A SUCKER-SEEM DUMBER THAN YOUR MARK
  • किसी को भी अगले व्यक्ति की तुलना में Jeeling stupider पसंद नहीं है।
  • चाल, तो, अपने पीड़ितों को स्मार्ट बनाने के लिए है-और सिर्फ स्मार्ट नहीं है, लेकिन आप की तुलना में होशियार हैं।
  • एक बार ओजे को यह समझाने के बाद, उन्हें कभी संदेह नहीं होगा कि आपके पास उल्टे उद्देश्य हो सकते हैं।
  • उसे हमेशा ये दिखाएँ कि आप कुछ नहीं जानते, उनके सामने वेबकूफ बनकर रहने से लोग आपको अपने बारे में खुद बताएँगे, और उन्हें आपकी शक्ति और उद्देश्य के बारे में पता नहीं चलेगा |
  • जब आप लोगों को महशूस करायेगें कि वो आपसे अधिक शक्तिशाली हैं तो इससे आप आसानी से उनके सुरक्षा कवच को तोड़ सकेंगे, और आपको जरूरी जानकारी हांसिल हो सकेगी |

48 कानूनों को अतीत की महान हस्तियों की रणनीति, विजय और विफलताओं के माध्यम से चित्रित किया गया है, जिन्होंने सत्ता का शिकार किया है – या सत्ता के शिकार हुए हैं। सत्ता के 3,000 वर्षों के इतिहास से तैयार, पाठकों को अपने लिए क्या हासिल करने में मदद करने के लिए यह निश्चित मार्गदर्शिका है। 

The 48 Laws Of Power (The Modern Machiavellian Robert Greene) Buy on amazon https://amzn.to/2OF5sve

https://www.youtube.com/watch?v=u1p4o96Xzak

https://yeshuafoundation.in/

Scroll to Top