बचाव में ही बचाव है- वरना 'सावधानी हटी- दुर्घटना घटी'

बचाव में ही बचाव है- वरना ‘सावधानी हटी- दुर्घटना घटी’

बचाव में ही बचाव है- वरना ‘सावधानी हटी- दुर्घटना घटी’ (There is only protection in the rescue – otherwise ‘Caution removed – accident happened’)

1. बचाव में ही बचाव है- वरना ‘सावधानी हटी- दुर्घटना घटी’ (There is only protection in the rescue – otherwise ‘Caution removed – accident happened’)

बचाव में ही बचाव है- वरना ‘सावधानी हटी- दुर्घटना घटी’ (There is only protection in the rescue – otherwise ‘Caution removed – accident happened’)- कोरोना महामारी से बचाव के लिये डरने की नहीं सतर्क रहने की जरूरत है; आदर्श स्वास्थ्य के क्षेत्र में कोरोना महामारी से बचाव के लिये डरने की नहीं सतर्क रहने की जरूरत है, इस लेख पर आपका स्वागत है। कोरोना वायरस को फैलने से रोकें (Prevent Corona virus)  यह आर्टिकल लिखा गया सहयोगी लेखक द्वारा United Nations Foundation. द यूनाइटेड नेशन्स फ़ाउंडेशन उन विचारों, लोगों तथा रिसोर्सेज़ को एक साथ लाती है, जिनकी ज़रूरत यूनाइटेड नेशन्स को ग्लोबल प्रोग्रैस को ड्राइव करने तथा अर्जेंट समस्याओं से निबटने के लिए होती है। 

Optimal health - 2handwash - optimal health - health is true wealth.
बचाव में ही बचाव है- वरना ‘सावधानी हटी- दुर्घटना घटी’ (There is only protection in the rescue – otherwise ‘Caution removed – accident happened’)

बचाव में ही बचाव है- वरना ‘सावधानी हटी- दुर्घटना घटी’

  •  (A) खुद को कोरोना वायरस से बचाकर रखना 
  •  (B) किसी बीमार इंसान की देखभाल करना
  •  (C) जानवरों से वायरस फैलने को रोकना 
  •  (D) संभावित इन्फेक्शन से निपटना

कोरोना महामारी से बचाव के लिये डरने की नहीं सतर्क रहने की जरूरत है

आवश्यक सूचना- बचाव में ही बचाव है- वरना ‘सावधानी हटी- दुर्घटना घटी’

  1. साबुन से हाथ धोना, मास्क पहनना और सामाजिक दूरी बनाये रखना बहुत जरूरी है।
  2. आप सभी से निवेदन और अनुरोध है, कि कोरोना संक्रमण के प्रति पहले से अधिक जागरूक और सतर्क हो जाएँ।
  3. बचाव के सभी उपाय अपनाएं, खुद के लिये खुद के डॉक्टर और अस्पताल खुद को बनाएँ।

देशी और घरेलू इलाज़-कोरोना महामारी से बचाव के लिये डरने की नहीं सतर्क रहने की जरूरत है

  1. खाली पेट ना रहें, साथ ही ध्यान रखें कि घर पर बना ताज़ा भोजन ही करें।
  2. उपवास और ज्यादा देर तक भूखे रह कर रोगप्रतिरोधक शक्ति को कमजोर ना करें।
  3. सब्जी में सोंठ, या अदरक का इस्तेमाल कीजिये। दालचीनी, मुलेठी, जीरा उपयोग कीजिये।
  4. रात को सोते समय हल्दी वाला दूध पीना चाहिये।  रात को एक चम्मच च्वंप्रयाश खाइये।
Optimal health - 24 - optimal health - health is true wealth.
बचाव में ही बचाव है- वरना ‘सावधानी हटी- दुर्घटना घटी’ (There is only protection in the rescue – otherwise ‘Caution removed – accident happened’)

बचाव में ही बचाव है- वरना ‘सावधानी हटी- दुर्घटना घटी’

1. खुद को कोरोना वायरस से बचाकर रखना

  • कुछ भी खाने या पीने से पहले हमेशा अपने हाथों को जरूर धोएं।
  • अपने हाथों को अपनी आँखों, नाक और मुंह से दूर रखें: हो सकता है कि शायद आपने डोरनॉब (doorknob) या फिर काउंटरटॉप जैसी जगहों को टच किया हो, जिसकी वजह से भी आप कोरोनावायरस के संपर्क में आ सकते हैं। जब भी ऐसा होता है, जर्म्स आपके हाथों में चिपक सकते हैं, इसलिए फिर जब भी आप अपने गंदे हाथों को अपने चेहरे पर लगाते हैं, तब आप बड़ी आसानी से खुद को इन जर्म्स से संक्रमित कर सकते हैं। वायरस के आपकी त्वचा पर होने के मामले में अपनी आँखों, नाक और मुंह को छूने से बचें।
  • खाँसने या छींकने वाले लोगों से दूर हो जाएँ: चूंकि कोरोनावायरस एक रेस्पिरेट्री (श्वसन संबंधी) इन्फेक्शन है, इसलिए खाँसना और छींकना इसका एक आम लक्षण है। इसके अलावा, खाँसने और छींकने की वजह से हवा में वायरस फैल जाते हैं, इसलिए ये आपके भी वायरस के इन्फेक्शन की चपेट में आने के रिस्क को बढ़ा सकता है। ऐसे लोगों से दूर रहें, जिनमें अपर रेस्पिरेटरी इन्फेक्शन होने का लक्षण नजर आ रहे हैं।

अगर ठीक लगे, तो उस इंसान से ही आप से दूर रहने का बोल दें।

  • आप ऐसा कुछ कह सकते हैं, “मैंने ध्यान दिया कि आप खाँस रहे थे। मैं उम्मीद करता हूँ कि आप बहुत जल्दी ठीक हो जाएँ, लेकिन आप मुझसे बस थोड़ी सी दूरी बनाकर रखें, ताकि ये बीमारी मुझ तक न फैले।”
  • फिर भले किसी में लक्षण दिखाई दें या न दें, आप लोगों से हाथ न मिलाएँ: बुरी बात ये है कि कोरोना वायरस के इन्फेक्शन वाले लोग, बीमारी के लक्षण दिखाए बिना भी इस बीमारी को दूसरों तक पहुंचा सकते हैं।  
Optimal health - 111195673 corona whatyouneedtodo without title nc - optimal health - health is true wealth.
बचाव में ही बचाव है- वरना ‘सावधानी हटी- दुर्घटना घटी’ (There is only protection in the rescue – otherwise ‘Caution removed – accident happened’)

खुद को सुरक्षित रखने के लिए, बस दूसरों के संपर्क में आने से बचने की कोशिश करें।

  • जब तक कि ये कोरोना वायरस फैलने का खतरा टल नहीं जाता, तब तक लोगों से हाथ मिलाने से मना करें।
  • आप ऐसा कुछ बोल सकते हैं, “मैं आप से मिलकर बहुत खुश हूँ! 

अपने घर में, आपके सामने वाले डोरनॉब, किचन के काउंटर, बाथरूम के काउंटर और नल बगैरह को डिसिन्फ़ेक्ट करें।

बचाव में ही बचाव है- वरना ‘सावधानी हटी- दुर्घटना घटी’

2. किसी बीमार इंसान की देखभाल करना

  •  देखरेख करते समय डिस्पोज़ेबल प्रोटेक्टिव गियर (चीजें) पहनें: बीमार इंसान की देखभाल करना शुरू करने के पहले डिस्पोज़ेबल ग्लव्स, एक फेस मास्क और एक पेपर गाउन पहन लें। जब आप उनके कमरे से निकलें, आपके प्रोटेक्टिव गियर को एक प्लास्टिक के कचरे के बैग में रख दें। प्रोटेक्टिव कपड़ों को फिर से इस्तेमाल न करें, क्योंकि हो सकता है कि गलती से आपका संपर्क वायरस से हो गया हो।

अपनी सुरक्षा का ध्यान रखें! 

बचाव में ही बचाव है- वरना ‘सावधानी हटी- दुर्घटना घटी’

3. जानवरों से वायरस फैलने को रोकना

  • चिकन और टर्की को 165 °F (74 °C) पर पकाया जाना चाहिए।
  • मीट को 145 °F (63 °C) पर पकाया जाना चाहिए।
  • ग्राउंड मीट को 160 °F (71 °C) पर गरम करें।
  • अंडे के टेम्परेचर को 160 °F (71 °C) तक जाना चाहिए।
  • वायरस के फैलने के रिस्क को कम करने के लिए जिंदा जानवरों के साथ में अपने कांटैक्ट को सीमित करें: ऐसे जानवर को संभालने का खतरा मत उठाएँ, जो शायद बीमार हो सकता है। अगर आप जानवरों के साथ में काम नहीं करते हैं या फिर आपके पालतू जानवरों की देखभाल नहीं करते हैं, तो फिर जिंदा जानवरों को संभालने से बचें।

बचाव में ही बचाव है- वरना ‘सावधानी हटी- दुर्घटना घटी’

Optimal health - blue 3 - optimal health - health is true wealth.
बचाव में ही बचाव है- वरना ‘सावधानी हटी- दुर्घटना घटी’ (There is only protection in the rescue – otherwise ‘Caution removed – accident happened’)

4. संभावित इन्फेक्शन से निपटना

  •  अगर आपको अपने कोरोना वायरस की चपेट में आने का शक है, तो अपने डॉक्टर को कांटैक्ट करें: अगर आपको रेस्पिरेट्री इन्फेक्शन (respiratory infection) के लक्षण हैं और आप अभी हाल ही में किसी ऐसे इंसान के संपर्क में आए हैं, जिसे कोरोना वायरस का इन्फेक्शन हो सकता है, तो अपने डॉक्टर को कांटैक्ट करें।
  • फीवर
  • खांसी
  • साँसों की कमी

अगर आप डॉक्टर के पास जाते हैं, तो अगर आपके पास में एक फेस मास्क हो, तो उसे पहन लें। ये जर्म्स को फैलने से रोकेगा।

  • कोविड-19 (COVID-19) को बुखार, खाँसी और साँसों की कमी के द्वारा पहचाना जाता है। हालांकि, बहती नाक और गले में खराश का होना, कोरोना वायरस की इस स्ट्रेन के इन्फेक्शन को नहीं दर्शाता है। अगर आपको ये लक्षण हैं, तो आपको शायद कॉमन सर्दी के जैसी किसी दूसरी तरह की रेस्पिरेट्री बीमारी हो सकती है।

7 MESSAGES FROM ‘WORD OF GOD’ FOR SPIRITUAL GROWTH IN HINDI.

कोरोना संक्रमण- आज बचाव में ही बचाव है- वरना ‘सावधानी हटी- दुर्घटना घटी’

WELCOME TO BETTER HEALTH/ OPTIMAL HEALTH

अधिक जानकारी के लिये Government of India’s official channel on Telegram for communications and citizen engagement corona.mygov.in MyGov Hindi Newsdesk: https://t.me/MyGovHindi 

अपडेट पढ़िये।

किसी तरह की गलतफहमी का शिकार न हों क्योंकि इससे आतंक पैदा हो सकता है!  COVID-19 और टीकाकरण से जुड़ी नवीनतम जानकारियों से अवगत रहें और अपने आसपास दूसरों को अपडेट रखें। संरक्षित रहने के लिए आवश्यक सावधानी बरतें!

https://www.youtube.com/playlist?list=PLGqF2Eq4iV78zLro16sjmsIuGSv

YouTube https://youtu.be/3hBQb7TExno गलत सूचना का शिकार न हों। # IndiaFightsCorona आइए, हमारे हेल्थकेयर वर्कर्स को धन्यवाद दें – COVID-19 महामारी के दौरान जान बचाने के इस मुश्किल काम पर आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए अपना संदेश साझा करें ।

24 Best Quotes Of Brian Tracey in Hindi and English

24 Best Quotes Of Brian Tracey in Hindi and English

About The Author

Scroll to Top