डिप्रेशन यानी तनाव के 10 लक्षण | 10 Sign And Symptom Of Depression

डिप्रेशन यानी तनाव के 10 लक्षण | 10 Sign And Symptom Of Depression

डिप्रेशन यानी तनाव के 10 लक्षण | 10 Sign And Symptom Of Depression

1. डिप्रेशन यानी तनाव के 10 लक्षण | 10 Sign And Symptom Of Depression

डिप्रेशन यानी तनाव के 10 लक्षण | 10 Sign And Symptom Of Depression. अवसाद के लक्षण और लक्षण क्या हैं? और मैं अवसाद के लिए सहायता कैसे प्राप्त कर सकता हूं? लक्षणों की एक लंबी सूची से अवसाद के लक्षणों और लक्षणों की पहचान की जा सकती है। अवसाद के कई अलग-अलग प्रकार और चरण हैं, हालांकि, पहले लक्षणों को पहचानने में सक्षम होना आपको अवसाद के लिए आवश्यक सहायता प्राप्त करने की कुंजी होगी।

Optimal Health - maxresdefault 34 edited - Optimal Health - Health Is True Wealth.
डिप्रेशन यानी तनाव के 10 लक्षण | 10 Sign And Symptom Of Depression

अवसाद के लक्षणों में अनिद्रा, हताशा, मिजाज और भूख न लगना शामिल हैं।

  • अवसाद के शुरुआती चरणों में लक्षणों को पहचानने में सक्षम होने से आपको और आपकी उपचार प्रक्रिया को लाभ होगा। इस बीमारी पर जोर देने का कोई कारण नहीं है जो अन्य स्वास्थ्य स्थितियों के कारण या चिड़चिड़ी हो सकती है।

अवसाद के सबसे गंभीर लक्षण मिजाज और हताशा से जुड़ी चिड़चिड़ापन हैं।

  • अवसाद और निराशा भी अवसाद के लक्षणों और लक्षणों में भूमिका निभा सकती है। थकान, अत्यधिक थकान, थकान, मनोरंजन में रुचि की कमी और शारीरिक बनावट भी अवसाद के लक्षण हैं। अपने प्रियजनों और सहकर्मियों के साथ संपर्क खोना, मूल रूप से खुद को बाकी दुनिया से अलग करता है।

कुछ चरम मामलों में बेकार और अपर्याप्तता की भावना आत्मघाती विचार भी हो सकती है।

  • अनिद्रा एक सामान्य लक्षण है, लेकिन कुछ लोगों को नींद की कमी के विपरीत अनुभव हो सकता है। अस्पष्टीकृत वजन घटना या वजन बढ़ना, खाने के विकार भी इस दौरान बढ़ सकते हैं।
  • ये सभी सामान्य लक्षण और ऊपर सूचीबद्ध अवसादग्रस्तता के लक्षण हैं, लेकिन सूची आगे बढ़ती है।
  • जब अवसाद के लक्षण प्रकट होने लगते हैं, तो इन लक्षणों वाले किसी व्यक्ति के लिए सबसे महत्वपूर्ण काम उनके अंदर देखना है। 
  • यद्यपि उत्तर स्पष्ट नहीं हो सकते हैं, आपको अंतर्निहित मुद्दे की पहचान करने का प्रयास करना चाहिए और उनसे परिचित (लाभ, प्राप्त) करना चाहिए। लोग अपने दिमाग की शक्ति का उपयोग करके महान या बुरे दोनों काम कर सकते हैं, यह समझना बहुत जरूरी है कि मन हमारे जीवन जीने के तरीके को कैसे प्रभावित करता है।

अवसाद का इलाज अकेले दवा से नहीं किया जा सकता है।

हर कोई अलग होता है और उसे अलग-अलग उपचार की आवश्यकता हो सकती है, फिर भी एक बात यह है कि अवसाद का इलाज अकेले दवा से नहीं किया जा सकता है। बेहतर होने के लिए जो आवश्यक है उसे करने के लिए रोगी को एक सचेत निर्णय लेना पड़ता है, और जिस तरह से आप सोचते हैं उसे बदलना इसका एक बड़ा हिस्सा है। मैं सिर्फ एक मनोवैज्ञानिक नहीं हूं, मैं इस बीमारी से बच गया हूं और मुझे पता है कि इस बीमारी से सीधे निपटना कैसा होता है।

डिप्रेशन को बयान कर पाना आसान नहीं है।

  • ऐसा इसलिए है क्योंकि तनाव कई भावनाओं का मिश्रण है ।
  • इसे पहचानना आसान नहीं है, क्योंकि यह स्थायी और अस्थायी दोनों हो सकता है या कुछ समय में गायब भी हो सकता है ।
  • जैसे यदि कोई लंबे समय तक उदासी महसूस कर रहा है, तो यह तनाव की शुरुआत है या
  • कोई बहुत दुखी या मायूस रहता है तो वो तनाव की इस परिभाषा के सबसे करीब माना जा सकता है ।
  • डिप्रैशन या तनाव एक ऐसी मानिसक बीमारी है जो शरीर, दिमाग, मन यहां तक की
  • हमारी नींद को भी बाधित करने का कारण बनती है ।
Optimal Health - Depression1 edited - Optimal Health - Health Is True Wealth.
डिप्रेशन यानी तनाव के 10 लक्षण | 10 Sign And Symptom Of Depression

डिप्रेशन यानी तनाव के 10 लक्षण | 10 Sign And Symptom Of Depression

डिप्रैशन या तनाव कईं प्रकार के होते हैं:

1.निराशा

  • निराशा तनाव की बहुत खराब स्थिति है। जब व्यक्ति के भीतर किसी चीज को लेकर कोई आशा नहीं बचती,
  • और वह एक हारी और थकी हुई स्थिति में आ जाता है,
  • तो यह स्थिति उसकी मनोदशा को दर्शाती है कि उसके पास इस निराशा से निकलने के लिए कोई उपाय नहीं बचा है ।
  • उसे नहीं पता कि क्या करना होगा और अगर कुछ गलत हो भी जाता है,
  • तो उसे इससे कोई फर्क नहीं पड़ता ।
  • यह स्थिति स्पष्ट रूप से किसी के भी मानसिक स्तर की गिरावट है।
  • वह व्यक्ति हर बात पर खुद को जिम्मेदार ठहराना स्वीकार कर देगा ।
  • http://optimalhealth.in/sorting-out-signs-of-anxiety-and-depression/

2.उत्साह की हानि/कमी

  • जीवन में हर व्यक्ति की कुछ पसंद या शौक होते हैं,
  • जिसे प्राप्त करने के लिए वह किसी भी हद तक जाता है।
  • यह शौक कोई खेल हो सकता है, संगीत हो सकता है, नृत्य या कुछ और ।
  • एक बार जब व्यक्ति डिप्रैशन का शिकार हो जाता है,
  • तो व्यक्ति उन सभी चीजों से दूरी बना लेता है जो उसे पसंद था।
  • यह एक उच्च लक्षण है और डिप्रैशन सेटिंग का एक संकेत है ।
  • सैक्स को भी डिप्रैशन से बाहर नहीं किया जा सकता है ।

3.थकान रहना और नींद का न आना

  • आपका शरीर किसी प्रकार की शक्ति या ऊर्जा का अनुभव नहीं करता,
  • उदसीनता की कमी के कारण हर समय सोने या लेटने का मन रहता है ।
  • इसके विपरीत डिप्रैशन का रोगी भारी नींद से भी पीड़ित हो सकता है ।

4.अधिक चिंतित होना

  • यह डिप्रैशन की एक अप्रत्याशित यानी अचानक से होने वाली प्रतिक्रिया हो सकती है,
  • चिंता करने वाले देर-सवेर तनाव के शिकार हो ही जाते हैं ।

5.चिड़चिड़ापन

  • उदास व्यक्ति गुस्सा होने में समय नहीं लगाता और अगले ही सेकंड शांत भी हो जाता है।
  • वह हर छोटी-छोटी बात को समस्या मानकर उससे बचने का रास्ता खोजता रहता है ।
  • दूसरे के लिए यह जानना आसान हो जाता है कि यह पता लाए कि ये लक्षण तनाव के हैं या नहीं ।

6.अचानक भोजन की आदतों और वजन में बदलाव

  • तनाव से ग्रसित लोग अचानक या तो अधिक खाना शुरू कर देंगे,
  • या फिर वजन और भोजन में रुचि खो देंगे जिससे उनके वजन में गिरावट आ जाती है

7.मृत्यु के प्रति दृष्टिकोण विकसित करना

  • एक उदासीन व्यक्ति को मृत्यु के बारे में बात करने में समय लगता है,
  • लेकिन एक बार जब वह ऐसा करना शुरू कर देता हैं,
  • तो वह आत्मघाती प्रवृत्ति विकसित कर लेता है ।
  • उदास व्यक्ति के आसपास के लोगों को इन लक्षणों की पहचान करनी चाहिए,
  • और इस पर तुरंत कार्रवाई करनी चाहिए ।

8.भावनाओं पर बेकाबू हो जाना

  • इसे एक लॉजिकल और छुपी हुई स्थिति कहा जा सकता है ।
  • तनाव से ग्रस्त व्यक्ति किसी भी बात पर रो सकता है,
  • और दूसरे ही पल बेकाबू होकर बेहिसाब हंसने लगता है ।

9.एकाग्रता की कमी

  • उदास मानसिकता बन जाएगी,
  • निर्णय लेने में परेशानी होगी,
  • मन एकाग्र नहीं रहेगा,
  • हमेशा बेचैनी बनी रहेगी,
  • और चीजों को भुलना शुरु हो जाएगा ।

10.आत्म-घृणा की भावना

  • यदि कुछ भी गलत होगा तो उसके लिए स्वंय को दोषी मानकर कोसने के प्रयास में रहना ।
  • यह एक दोषी भावना है, जो तनाव से ग्रसित लोगों में मिलती है लेकिन यह निराधार है ।
  • ऐसा नहीं है कि कोई व्यक्ति तनाव के इस जाल में स्वंय पड़ता है, या ये खुद से तैयार होता है, या दूसरों द्वारा उकसाया जाता है।
  • मूल कारण अतीत की कोई घटना रही होगी,
  • जो एक उचित समय पर सामने आई होगी ।
Optimal Health - main qimg a9e026c958e8eb84a0e248e70925ab73 lq - Optimal Health - Health Is True Wealth.
डिप्रेशन यानी तनाव के 10 लक्षण | 10 Sign And Symptom Of Depression
  • उसे सुने, उसे समझाये। क्योंकि डिप्रेशन में अक्सर लोग बच्चों की भांति हो जाते हैं, जिन्हें स्नेह की जरूरत होती है |

अगर आपका साथी इस समस्या से झूझ रहा है तो याद रखिए।

  • 1. कभी भी निरुत्साहित करने वाले कटाक्ष ना बोलें।
  • 2. बीमार व्यक्ति को मानसिक रोगी कह कर ना पुकारे, उसके आत्म सम्मान को ढ़ेस ना पहुंचाए।
  • 3. ऐसे व्यक्ति को कभी भी अकेले ना छोड़ें,
  • 4. MEDITATION और सकारात्मक चिंतन का अभ्यास जारी रखें।
  • 5. उन्हें धार्मिक गतिविधि में शामिल करें।
  • 6. अस्पताल से मिलने वाली दवाएं पूरी एक जगह पर ना रखें, हो सके तो ऐसे व्यक्ति की पहुँच से दवाएं दूर ही रखें।
  • 7. नियमित दवाएं, देखभाल और सलाह आपके साथी को जल्दी स्वस्थ्य कर देगा।

http://optimalhealth.in/how-to-defeat-fear-worry-and-depression-permanently/

http://optimalhealth.in/what-is-wellness-7-elements-of-wellness/

https://youtu.be/fWFuQR_Wt4M

Scroll to Top