BIBLE MY HEART’S FAVORITE BOOK PART 2 मेरी प्रिय पुस्तक – बाइबल

BIBLE MY HEART’S FAVORITE BOOK PART 2 मेरी प्रिय पुस्तक – बाइबल

BEST SCRIPTS MY HEART’S FAVORITE BOOK”BIBLE” I LOVE BIBLE .  BIBLE IS LIKE MY SECURITY GUARD .  KNOW YOUR BIBLE .  मेरी प्रिय पुस्तक-“बाइबिल” KNOW YOUR BIBLE. मेरे कॉलेज के दिनों में जब मैं, ट्रेनिंग कर रही थी, उस दौरान हमारी एक मात्र सुरक्षा कवच हमारी बाइबल ही थी, और हर परीक्षा और डर पर हमने बाइबल में लिखी बातों को अमल में लाकर पास की।

बाइबल 40 लेखकों के द्वारा, 1500 साल की अवधि के दौरान लिखी गई। अन्य धार्मिक लेखों के विपरीत, बाइबल वास्तविक घटनाओं, स्थानों, लोगों और उनकी बातचीत का विवरण देती है जो यथार्थ में घटित हुए। इतिहासकारों और पुरातत्ववेत्ताओं ने बाइबल की प्रामाणिकता को बार–बार स्वीकारा है। लेखकों के लिखने के तरीके और उनके व्यक्तित्व का प्रयोग करते हुए, परमेश्वर हमें बताता है कि वह कौन है और उसे जानने का अनुभव क्या होता है। बाइबल के 40 लेखक, निरंतर एक ही प्रधान संदेश देते हैं: परमेश्वर, जिसने हमें रचा है, हमारे साथ एक रिश्ता रखना चाहता है। वह हमें उसे जानने के लिए और उसपर विश्वास करने के लिए कहता है। WORK- A CALLING OR A CURSE

बाइबल हमें केवल प्रेरित ही नहीं करती, बल्कि हमें जीवन और परमेश्वर के बारे में बताती है। हमारे सभी प्रश्नों के उत्तर ना सही, पर बाइबल पर्याप्त प्रश्नों के उत्तर देती है। यह हमें बताती है कि किस प्रकार एक उद्देश्य और अनुकंपा के साथ जिया जा सकता है। कैसे दूसरों के साथ संबंध बनाए रखे जा सकते हैं। यह हमें परमेश्वर की शक्ति, मार्गदर्शन और हमारे प्रति उसके प्रेम का आनन्द लेने के लिए हमें प्रोत्साहित करती है। बाइबल हमें यह भी बताती है कि किस प्रकार हम अनन्त जीवन प्राप्त कर सकते हैं। http://optimalhealth.in/my-hearts-favorite-bookbible/

Source: Holy Bible (Authorised Version). Lutterworth Press, London (1946)

सम्पूर्ण बाइबल दो भाग में उपलब्ध है ।

नये नियम में 27 पुस्तकें हैं ।पुराने नियम में कुल 39 पुस्तकें हैं ,

पुराने नियम की प्रमुख पाँच पुस्तकें “तौरेत” के नाम से जानी जाती हैं , संभवतः इनके लेखक मूसा नबी को माना जाता है,

12 पुस्तकें इतिहास की पुस्तकें हैं,

जो इस्रालियों, इब्रानीयों, यहूदियों का इतिहास बताता है:

यहोशु , न्यायियों , रूत , पहला और दूसरा शेमुएल , पहला और दूसरा राजा, पहला और दूसरा इतिहास ,एज्रा ,नहेम्याह, और एस्थर,

ज़बूर या भजन या गीत की पुस्तकें

अय्यूब, भजन संहिता, नीतिवचन, सभोपदेशक और श्रेष्ठगीत

5 पुस्तकें बड़े भविष्यवक्ताओं की पुस्तकें

12 छोटे भविष्यवक्तायों की पुस्तकें

होशे , योएल , आमोस , ओबध्याय , योना , मीका , नहूम , हबक्कूक , सपन्याह , हाग्गै , जकर्याह , और मलाकी ।

नये नियम में 27 पुस्तकें पायी जाती हैं,

पहली 4 पुस्तकें सुसमाचार की पुस्तकें हैं जो यीशु मसीह के जन्म, सेवा, जीवन चरित्र, म्रत्यु और पुनरुत्थान के विषय की जानकारी हेतु उनके शिष्यों द्वारा लिखीं गईं हैं:

मत्ती रचित सुसमाचार, मरकुस रचित सुसमाचार, लूका रचित सुसमाचार, यूहन्ना रचित सुसमाचार

पाँचवी पुस्तक

प्रेरितों के कार्यों का वर्णन करती है।

इब्रानियों नामक पत्री के लेखक अज्ञात हैं, संभवतः पौलूस को ही इब्रानियों का लेखक माना जाता है,

याक़ूब की पत्री यीशु मसीह के भाई याक़ूब ने लिखी है, याक़ूब ने यीशु को बहुत करीब से जाना और मात्र 5 अध्याय की इस पत्री में जीवन के बहुत से सिद्धान्त सरल शैली में लिख दिये , जिसे छोटी बाइबल भी कहा जाता है।

पहली और दूसरी पतरस की पत्री, पहली,दूसरी, और तीसरी यूहन्ना की पत्री,

यहूदा

और अंतिम पुस्तक प्रकाशितवाक्य है।

https://g.co/kgs/LpLDLK

परमेश्वर की अद्भुत बातें जानने के लिए -मसीही धर्म पुस्तक बाइबिल को पढ़िए ।

https://en.wiktionary.org/wiki/Appendix:Books_of_the_Bible

  • पाप क्या है ?
  • पाप की उत्पत्ति कैसे हुई ?
  • ईश्वर कैसे दिखते हैं ?
  • क्या मनुष्य ईश्वर को देख सकता है ?
  • क्या ईश्वर की मूर्ति में ईश्वर होता है ?
  • ईश्वर ने मनुष्य की रचना क्यों की ?
  • ईश्वर का हमारे जीवन में क्या उद्देश्य है ?

BEST SCRIPTURE  FROM MY HEART’S FAVORITE BOOK”BIBLE” 

इस तरह के अनगिनत सवालों के जवाब बाइबल में हैं, आपको ये जवाब कहाँ मिलेंगे, उन बाइबल अध्याय और पदों के साथ हम आपके सवालों के जवाब अवश्य देंगे।

http://optimalhealth.in/spirituality-bible-knowledge/
http://optimalhealth.in/spirituality-bible-knowledge/