डाइरैक्ट सेलिंग में टीम कैसे बनाएँ? 12 टिप्स | how to build a team in direct selling/ network marketing: 12 tips

डाइरैक्ट सेलिंग में टीम कैसे बनाएँ? 12 टिप्स | How to build a team in Direct Selling/ Network Marketing: 12 Tips

डाइरैक्ट सेलिंग में टीम कैसे बनाएँ? 12 टिप्स | How to build a team in Direct Selling/ Network Marketing: 12 Tips

1. डाइरैक्ट सेलिंग में टीम कैसे बनाएँ? 12 टिप्स | How to build a team in Direct Selling/ Network Marketing: 12 Tips

डाइरैक्ट सेलिंग में टीम कैसे बनाएँ? 12 टिप्स | How to build a team in Direct Selling/ Network Marketing: 12 Tips। अगर आप डाइरैक्ट सेलिंग (Direct Selling marketing) की फील्ड (field) में हो तो आपके लिए टीम बनाना (team build) करना बहुत ही जरुरी है , यही नहीं किसी भी नेटवर्क मार्केटिंग (Network Marketing) में भी अच्छी टीम बनाना बहुत जरुरी है। हम किसी भी field में चले जाये एक अच्छी टीम बनाये बिना हम उस व्यवसाय में सफल नहीं हो सकते है।

अगर आप एक ऑफिस चला रहे हैं तो भी एक अच्छी टीम बनाना बेहद जरुरी है क्योंकि टीम वर्क (Team Work) के बिना हम लम्बी सफलता हांसिल नहीं कर सकते। इसलिए हम यहाँ टीम बनाने के 12 टिप्स (उपायों) पर मनन करने जा रहे है, जिनसे आपको अपनी एक अच्छी टीम बनाने में मदद मिलेगी।

Optimal health - network marketing image 3928848 - optimal health - health is true wealth.
डाइरैक्ट सेलिंग में टीम कैसे बनाएँ? 12 टिप्स | How to build a team in Direct Selling/ Network Marketing: 12 Tips

1 . Be Happy and Exited [खुश और उत्साहित रहें ]

  • अगर आप एक अच्छी टीम खड़ी करना चाहते है तो सबसे पहले आपको खुश रहना होगा , खुश रहने से जो भी आपके साथ रहेगा वह बहुत ही प्रभावित (Impress) होगा। हर कोई किसी ना किसी प्रकार से तनाव और उलझन में रहता ही है। जो भी आपको देखेगा वह सबसे पहले आपके ख़ुशनुमा व्यक्तित्व से प्रभावित होगा, और कहा जाता है ” first impression is the last impression “ ।
  • जब आपका पहला इम्प्रैशन (Impression) किसी पर अच्छा रहेगा तो वह आपसे घुलने मिलने में ज्यादा समय नहीं लगाएगा। आपके ख़ुशनुमा रवैया के कारण कोई भी नया व्यक्ति बिना झिझक के अपनी समस्या और संदेह आपके सामने रख पायेगा । और आप आसानी से जान पाओगे की सामने वाला व्यक्ति क्या सोच रहा है।

NOTE – खुश (happy) रहने का मतलब बहुत ज्यादा मज़ाकिया (funny) बनना नहीं है। अगर आप ज्यादा ही मज़ाकिया (funny) लगे तो सामने वाला आपकी बातों को हँसी में टाल देगा , इसलिये समझदार, सभ्य और खुश मिज़ाज बनें। (Be Genuine , Be Happy).

2 . Be prepared for new gays [नए व्यक्ति के लिए तैयार रहें। ]

  • टीम खड़ी करने के लिए आपको पहले से तैयारी कर के रखनी होगी। विशेष तौर पर जब, जबकि अगर आप नये लोगों से मिलने वाले हो, तब , आपको तैयार रहना होगा कि सामने वाला क्या-क्या सवाल (Question) कर सकता है?
  • हर सम्भावित सवाल का जवाब आपके पास होना चाहिये, आपको अपना बिजनेस प्लान या प्रेजेंटेशन कितनी देर में पूरा करना है? क्या क्या बातें मुख्य रूप से उजागर करना है?
  • आपकी ड्रेस, आपके शूज सभी तैयार है या नहीं? आपको हर चीज की तैयारी पहले से कर लेनी चाहिए क्योकि ”First Impression is the last impression”

3 . Meet New Guys With Confidence. [नए व्यक्ति से confidence के साथ मिले।]

  • जब भी हम किसी नये व्यक्ति से मिलते हैं, हमें पूरे आत्म-विश्वास (Confidence) के साथ मिलना चाहिए। सामने वाला यह देख कर भी हमारे साथ जुड़ने को तैयार हो जाता है कि हम हमारे कारोबार को लेकर बहुत ही कान्फिडेंस है।
  • आपका बिजनेस प्लान जो भी या प्रेजेंटेशन हो, वह भी पूरे भरोसे के साथ नये व्यक्ति के सामने रखेँ। 
  • यह ध्यान रखेँ कि किसी भी चीज या प्लान को बताने से पहले आपको खुद उस कंपनी या प्लान के बारे में पूरी जानकारी होना चाहिए। जब सारा कांसेप्ट पहले आपके दिमाग में स्पष्ट होगा, तो ही आप किसी  को वह बात सही से बता पाएंगे।
  • NOTE – अपने बिजनेस प्लान या प्रेजेंटेशन को बताते समय कभी भी झूट ना बोले या झूठे वादे ना करें। नहीं तो सच्चाई पता चलने पर कोई भी आप पर दोबारा विश्वास नहीं करेगा। अभी के लिए तो आप सामने वाले को मना लोगे, जॉइन करवा लोगें , लेकिन सच्चाई पता होने पर वह आपके साथ, और टीम को छोड़ कर चला जायेगा, हो सकता है, संभवतः वह एक अच्छा लीडर बनने वाला हो ।

4. Make him Comfortable. [ नए व्यक्ति को comfortable महसूस कराये।]

  • जब कोई भी नया व्यक्ति आपके साथ रहें, उसे आरामदेह स्थिति का आभास करवाये, वह इस काम में नया है, आप उसके लिए अजनबी है, उसे नहीं पता है कि अब क्या होगा या क्या बताया जायेगा इसलिए आप उसे कंफ़र्तेबिल करने की कोशिश करें।
  • इसके लिए आप उसके साथ नयी और रोचक कहानियाँ बता सकते हैं, कुछ हंसी मज़ाक कर सकते है, कुछ व्यक्तिगत बातें, जो जरूरी और उचित हों, सांझा कर सकते है।
  • बिजनेस प्लान या प्रेजेंटेशन (OPPORTUNITY) बताने के पहले कोशिश करें कि उससे आपका अच्छा रिश्ता बन जाये। जिससे वह आपकी बातों और मनोभावों को आसानी से समझ पायेगा।

5. Explain the Opportunity/plan with Pride. [गर्व के साथ अपना business plan /Opportunity बताये।]

  • कोई भी किसी मामूली कंपनी बिजनेस प्लान या प्रेजेंटेशन के साथ जॉइन नहीं करना चाहेगा। और वह कंपनी बिजनेस प्लान या प्रेजेंटेशन ख़ास (Special) है या मामूली वह आपके बिजनेस प्लान या प्रेजेंटेशन पर निर्भर करता है।
  • आप जितने ही गर्व (Proud) के साथ अपना बिजनेस प्लान या प्रेजेंटेशन दोगे, उतनी ही अच्छी तरह आपकी कंपनी बिजनेस प्लान या प्रेजेंटेशन के साथ सामने वाला जुड़ना चाहेगा।
  • याद रखें मार्केटिंग मे आपको 90% नकारात्मक प्रतिक्रिया (Negative Result) देखने मिल सकती है, इससे परेशान हो कर अपना भरोसा (Confidence) कम ना करें, क्योंकि जो 5 से 10% रिज़ल्ट मिलेगा वही हमारे काम का होता है।

6. Be a Friend Not Boss. [दोस्त के जैसा व्यव्हार करें]

  • आपके साथ जो भी व्यक्ति हो उनके साथ एक दोस्त के जैसा व्यव्हार करे। विशेष तौर पर नये लोगों के साथ, उसे भरोसा दिलाएं कि इस काम को करने में जो भी सम्भव मदद हो सकेगी आप करेंगे।
  • चाहे बिक्री बढ़ाने में हो या बिजनेस प्लान या प्रेजेंटेशन देने में या फिर उसकी टीम खड़ी करने में। इससे संभावित व्यक्ति आपके साथ लंबे समय तक रहेगा और जल्दी ही वह आपकी तरह एक लीडर बन जायेगा।

7. Involve in the Work. [वर्क/ काम में शामिल करें।]

  • यदि नया व्यक्ति आपके साथ है तो उसे अपने साथ काम में संलग्न रखें , चाहे आप बिक्री की प्रजेंटेशन दे रहे हो या बिजनेस प्लान के बारे में बात कर रहे हो।
  • अगर वह इन्वोल्व नहीं हो रहा है तो 2 मिनिट रुक कर उससे बात करें, क्योकि उसे भी आगे यही काम करना है। यदि वह वर्क में आगे नहीं होगा, तो जल्दी ही वह बोरियत महसूस करने लगेगा और वह खुद को, काम से पीछे कर लेगा।  इसलिए उसे काम में जरूर सहभागी करें।

8. Give him lots of examples of success. [सफलता के कई सारे उदाहरण दे। ]

  • जब किसी नया व्यक्ति को आप बिजनेस प्लान बता रहे हो, उस समय बीच-बीच में उसे आपकी कंपनी के या आपके साथ के लोगो की सफलता के बारे में भी बताये, उनका परिचय विस्तार से (Background) बताये , उनकी सफलता की कहानी (Success story) बताएं और विश्वास दिलाये कि वह भी  सफल हो सकता है।

8 Step to Success [सफ़लता का मन्त्र]

https://optimalhealth.in/400-best-book-for-personality-developments/

9. Let Him Visulize. [उसे सफलता की तस्वीरें दिखाएँ।]

https://optimalhealth.in/networking-refocus/

  • जब आप किसी को बिजनेस प्लान या Opportunity के बारे में बताओ तो सिर्फ यह नहीं बताओ कि आपने क्या हांसिल (Achieve) किया है , दूसरे लोगों ने क्या सफलता पायी है। 
  • उसे आप जो सफलता (Success) का फोटो दिखा रहे है उसमें उसका होना भी जरुरी है। जब तक वह अपने आप को Success होते हुए Visualize (कल्पना ) नहीं करेगा, तब तक उसके अन्दर जॉइन करने और सफलता (Success) होने का जज्बा पैदा नहीं होगा।
  • इसलिए उसे Visualize करवाने की कोशिश करे कि वह भी सफलता के रास्ते पर चलने वाला है।

10. Make him feel he can do this. [उसे अहसास करवाये कि यह वह भी कर सकता है। ]

  • जब आप अपने संभावित लीडर को कम्फ़र्तेबिल महसूस करवा देते है, एक दोस्त की तरह उससे बातचीत करते हैं, अपना बिजनेस प्लान या प्रेजेंटेशन के बारे में बता देते हैं और उसे सफलता की कल्पना करवा देते है। तो उसके मन में एक ही संदेह होता है कि क्या वह यह काम अच्छे से कर पायेगा?
  • अब आपको उसे समझना पड़ेगा की इस दुनिया में कोई भी महान और सफल पैदा नहीं हुआ है, चाहे वह दुनियां का सबसे बड़ा आदमी ही क्यों ना हो सब कुछ यही पर आ कर सीखा है, लोग कई कई बार असफलता के बाद ही सफल होते हैं, और ऐसा ही सब महान लोगों के साथ भी हुआ है लेकिन अभ्यास करते–करते  सीख़ गया। ”Practice Make Man Perfect.“

11. Introduce with Seniors and Colleague . [ उसे अपने सीनियर और साथ काम करने वालों से मिलायेँ। ]

  • जब आप अपने संभावित व्यक्ति/ लीडर को, जो आपके साथ जॉइन होने के लिए तैयार हो जाये या 50% भी बात को समझ जाये तो उसे अपने सीनियर और साथ में काम करने वालों से जरूर मिलाए।
  • इससे उसपर सकारात्मक असर पड़ेगा कि उसके जैसे बहुत से लोग इसी तरह से काम कर रहे है। अगर आपको संदेह है कि आप अपने संभावित लीडर की कोई दुविधा या सवाल को स्पष्ट नहीं कर पाये हैं तो सीनियर के सामने उस बात को जरूर निकले, सीनियर उसके सवाल को अच्छे से स्पष्ट कर दें जो आप नहीं कर पाये हो।

TIPS – हो सके तो अपने सीनियर को पहले ही बता दे कि आप नये व्यक्ति को उससे मिलवाने वाले है और साथ ही नये व्यक्ति प्रष्ठभूमि क्या है ताकि सीनियर को बात करने और समझाने में आसानी हो।

12. Give Positive Close. [बात को सकारात्मक रूप में ख़त्म करके घर भेजें।]

अपनी सारी प्लानिंग जो आपने की थी, पूरी करने के बाद, अंत को सकारात्मक विचार सहित बात को समाप्त करें। कभी भी हमें उससे ऐसे सवाल नहीं पूछने चाहिए कि ‘क्या तुम जॉइन करोंगे?’, ‘कल आओगे क्या या आओगे ना?‘ वगेरह वगेरह नकारात्मक सवाल नहीं पूछने चाहिए बल्कि सकारात्मक बातें करना चाहिये कि ‘चलो कल मिलते है।’ और उससे फोन नंबर, मेसेज , व्हाट्सप्प , फेसबूक आदि के ज़रिये संपर्क में बने रहना चाहिए।

उम्मीद है दोस्तों आपको 12 उपाय जो कि टीम खड़ी करने में मदद करेंगीं, जरूर पसंद आयीं होगीं। अगर आपको यह डाइरैक्ट सेलिंग में टीम कैसे बनाएँ? 12 टिप्स | How to build a team in Direct Selling/ Network Marketing: 12 Tips पसंद आये है तो लाइक करें और अपने टीम के लोगों में , सीनियर्स और लीडर्स, सबके साथ जरूर शेयर करें ताकि उन्हें भी अपनी टीम खड़ी करने में मदद मिल सके।

https://youtu.be/LChccMGE1x0

https://youtu.be/d45_8xQPBUY

https://youtu.be/PolA4NwF1W0

About The Author

Scroll to Top